उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
 विराट कोहली
विराट कोहली|Twitter
क्रिकेट

2019 के वर्ल्ड कप को चुनौती मानते हैं विराट कोहली, इस चुनौती से निकलने के लिए बनाई है बेजोड़ रणनीति 

2019 के वर्ल्ड कप में होगी विराट कोहली की असली अग्निपरीक्षा। 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

क्रिकेट का महाकुंभ यानी 2019 का वर्ल्ड कप 30 मई से शुरू हो रहा है। टीम इंडिया बुधवार को वर्ल्ड कप के लिए इंग्लैंड रवाना होने वाली है। इंग्लैंड जाने से पहले आज टीम इंडिया के मुख्य कोच रवि शास्त्री और कप्तान विराट कोहली ने मीडिया से बातचीत की और बताया कि इस बार का वर्ल्ड कप कैसे अलग है। कप्तान विराट कोहली ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि-

2019 का वर्ल्ड कप अभी तक का सबसे चुनौती पूर्ण वर्ल्ड कप मैच होने वाला है। इस साल सभी बेहतरीन टीमें वर्ल्ड कप खेलने आ रही है। हमें काफी मेहनत करनी होगी। और टूर्नामेंट जीतने के लिए हर मैच को जी-जान लगा कर खेलना होगा। वैसे तो हमारे सभी खिलाड़ी फॉर्म में हैं। हमारी टीम भी बैलेंस है। कोई भी खिलाड़ी थका हुआ नहीं लगता। बस हमें अपने हिस्से का मैच खेलना है। हम हर मैच के हिसाब के प्लेइंग इलेवन खिलाड़ी को चुनेगें। हमारी टीम हर चुनौती का सामना करने के लिए तैयार है। 

कप्तान विराट कोहली

अफगानिस्तान की तारीफ करते हुए कोहली ने कहा कि

इस बार वर्ल्ड के लिए आने वाली हर टीम मजबूत दिखाई दे रह है। आप अफगानिस्तान को ही देख लें। वह टीम पहले क्या थी और अब क्या हो गई है। हम इस वर्ल्ड को हल्के में नहीं ले सकते।

वहीं जब टीम इंडिया के मुख्य कोच रवि शास्त्री मीडिया से मुखातिब हुए तो उन्होंने पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के बारे में बात की। उन्होंने कहा कि

महेंद्र सिंह धोनी टीम के लिए काफी अहम है। धोनी पूर्व कप्तान होने के नाते अपने अनुभव से टीम को काफी मदद कर सकते हैं। एक बल्लेबाज के तौर पर भी धोनी शानदार फॉर्म में हैं। आईपीएल मैचों में उन्होंने शानदार पारियां खेली थी। स्टम्पिंग में उनका कोई मुकाबला नहीं है। धोनी ऐसे खिलाड़ी हैं जो अंतिम समय में भी मैच की दिशा बदल सकते हैं।

टीम इंडिया के मुख्य कोच रवि शास्त्री

आपको बता दें कि, टीम इंडिया इस बार वर्ल्ड कप के तीसरे खिताब के लिए प्रयासरत है। पांच जून से शुरू हो रहे वर्ल्ड कप मुकाबले में इंडिया का पहला मैच दक्षिण अफ्रीका के साथ है।

टीम

विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा (उप-कप्तान), शिखर धवन, लोकेश राहुल, केदार जाधव, महेंद्र सिंह धोनी (विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), विजय शंकर, रवींद्र जडेजा।