उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
Khandani Shafakhana Review
Khandani Shafakhana Review|Social Media
बॉलीवुड बुलेटिन

क्या सोनाक्षी सिंहा को ‘फ्लॉप हेरोइन’ के टैग से बचा पाएगा ‘खानदानी शफाखाना’

सोनाक्षी अच्छी एक्ट्रेस हैं लेकिन फिल्में फ्लॉप हो जाती है ! 

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

आज सिनेमाघरों में सोनाक्षी सिंहा की फिल्म ‘खानदानी शफाखाना’ रिलीज हुई है, इस फिल्म में उनके साथ वरुण शर्मा, और जाने-माने रैपर-सिंगर बादशाह भी काम कर रहे हैं बादशाह की यह पहली फिल्म है, और इस फिल्म में उन्होंने कमाल की एक्टिंग की है उनके फोल्लोवेर्स इस फिल्म को देखकर खुश होंगे।

‘खानदानी शफाखाना’ में सोनाक्षी सिंहा ने एक बेबाक पंजाबी लड़की का उम्दा किरदार निभाया है, उनके एक्टिंग की हर तरफ तरीफ की जा रही है। सोशल मीडिया में फिल्म को अच्छा रिस्पॉन्स मिल रहा है, दर्शकों के साथ-साथ क्रिटिक्स भी फिल्म को अच्छा रिस्पॉन्स दे रहे हैं।

अब देखना ये है कि बॉक्स ऑफिस में यह फिल्म कितनी कमाई कर पाती है। फिल्म जानकारों के अनुसार सोनाक्षी ने इस फिल्म के लिए काफी मेहनत की है, उनकी पिछली पांच फिल्में (अकीरा, फोर्स 2, नूर, इत्तेफाक और हैप्पी फिर भाग जायेगी) बॉक्स ऑफिस पर कोई खास असर नहीं छोड़ पाई थी, हालांकि उन फिल्मों में उनके एक्टिंग की तारीफ की गई थी लेकिन बॉक्स ऑफिस पर कमाई के मामले में फिल्में फिसड्डी रही, अगर सोनाक्षी की यह फिल्म भी फ्लॉप हो जाती है तो उनकी ये छठीं फ्लॉप फिल्म होगी जो अपने आप में एक बड़ा रिकॉर्ड होगा और इसी के साथ ही सोनाक्षी के नाम ‘फ्लॉप हीरोइन’ होने का टैग लग जाएगा।

सोशल मीडिया में फिल्म के डायलॉग और सीन्स को लेकर तरह-तरह के कमेंट्स आ रहे हैं। लोगों का कहना है कि 'इस मूवी को जरूर देखा जाना चाहिए और फिल्म में बादशाह की नेचुरल एक्टिंग को देखकर लोगों का कहना है कि 'इस फिल्म को देखकर ये बिल्कुल अंदाजा नहीं लगाया जा सकता की यह बादशाह की पहली फिल्म है ।'

क्या हो सकता है बॉक्स ऑफिस कलेक्शन

सोनाक्षी की फिल्म ‘खानदानी शफाखाना’ का निर्देशन राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार विजेता शिल्पी दासगुप्ता ने किया है। फिल्म एनालिस्ट तरण आदेश के अनुसार यह फिल्म अपने ओपनिंग डे पर 1.5 करोड़ से लेकर 2 करोड़ तक की कमाई कर सकती है। बॉक्स ऑफिस पर कंगना रनौत की फिल्म 'जज मेंटल है क्या' पहले से बनी हुई है कहा जा रहा है 'खानदानी शफाखाना' को इससे नुकसान हो सकता है।

फिल्म रिव्यु

‘खानदानी शफाखाना’ हमारे समाज की उस धारणा पर आधारित है जिसे हमारा समाज टैबू मानता है। इस फिल्म में सोनाक्षी ने एक पंजाबी लड़की का किरदार निभाया है जो अपने मामा की मौत के बाद उनकी फर्टिलिटी क्लिनिक चलाती है। आयुष्मान खुराना की ‘विक्की डोनर’ और ‘शुभ मंगल सावधान’, अक्षय कुमार की ‘पैड मैन’ और ‘टॉयलेट एक प्रेम कथा’ के बाद सोनाक्षी की ‘खानदानी शफाखाना’ उनके करियर का टर्निंग पोंइट साबित हो सकती है। वो भी तब जब उनकी ज्यादातर फिल्में फ्लॉप रही हैं।