उदय बुलेटिन
www.udaybulletin.com
ब्लॉग

विश्व पर्यटन दिवस और भारत 

विश्व पर्यटन दिवस के इस खास मौके पर हम आपको भारत पर्यटन से जुड़ी कुछ बातें साझा कर रहे हैं-

AKANKSHA MISHRA

AKANKSHA MISHRA

आज विश्व पर्यटन दिवस है , 1980 में सयुंक्त राष्ट्र संघ ने 27 सितंबर को हर साल पर्यटन दिवस घोषित किया था। उद्देश्य था पर्यटन के साथ-साथ सामाजिक ,राजनैतिक ,आर्थिक व सांस्कृतिक मूल्यों के प्रति विश्व समुदाय को जागृत करना। लेकिन यह दिन हमारे देश के लिए कई मायनों में खास है , क्योंकि भारत अतभुत देश है , अतुल्य है , अनोखा है ,यहां अतिथि को देवता माना जाता है ,इसलिए हमारे देश में आने वाला हर पर्यटक देवता स्वरूप है। विश्व पर्यटन दिवस के इस खास मौके पर हम आपको भारत पर्यटन से जुड़ी कुछ बातें साझा कर रहे हैं।

कहा जाता है, भारतवर्ष में पर्यटन कि असीमित संभावनाएं हैं , लेकिन इन संभावनाओं का पूर्ण दोहन अब तक संभव नहीं हुआ है। विश्व रिपोर्ट की माने तो वर्ष 2017 में हमारे देश में 1.50 करोड़ पर्यटकों का आगमन हुआ था लेकिन ये संख्या कम है , विश्व में प्रतिवर्ष 1.13 अरब पर्यटक दूसरे देशों में घूमने जाते हैं। हमारे देश में पिछले कुछ वर्षो के मुकाबले पर्यटकों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। पर जरुरत है कई तरह के कोशिशों की। हमारे देश कि जीडीपी में पर्यटकों का 6.23 फीसदी योगदान होता है। कूल रोजगार में देखा जाये तो पर्यटकों का योगदान 8.73 फीसदी है। विश्व पर्यटन दिवस पर हम आपको देश के कुछ विशेष पर्यटन स्थलों के बारे में बताने जा रहे हैं।

Aagra
Aagra
Source- BHP

आगरा

ऐतिहासिक इमारत ताजमहल के कारण आगरा पूरी दुनिया में मशहूर है , यह पर्यटकों के आकर्षण का प्रमुख केंद्र रहा है। कई देशों के राजनेता वार्ता के लिया जब भारत दौरे पर आते हैं तो इसे देखने जरूर आते हैं। आगरा में ताजमहल के अलावा आगरा किला ,अकबर का मकबरा और भी कई देखने योग्य दार्शनिक स्थल हैं।

Delhi
Delhi
Source - Pink page

दिल्ली

दिल्ली भारत की राजधानी होने के साथ-साथ देश के सर्वाधिक प्राचीनतम शहरों में शामिल है। दिल्ली का पुराना नाम हस्तिनापुर था , यह पांडवों की राजधानी हुआ करती थी। दिल्ली में इंडिया गेट ,हौज़खास ,लालकिला , क़ुतुब मीनार ,लोटस टेम्पेल जैसी कई जगहों पर जा कर आप भारत की प्रचीनतम सभ्यताओं को नजदीक से जान सकते हैं।

Jaipur
Jaipur
Source -Right point

जयपुर

राजस्थान की राजधानी जयपुर बेहद खूबसूरत और अनोखे खासियत के लिए मशहूर है। जयपुर की स्थापन राजा जय सिंह ने 18 नवंबर 1727 में कि थी । राजपुताना आन-बान-शान का प्रतिक जयपुर भारत के शौर्यवीरों कि कहानी बताता है। अमर किला ,हवा महल, सिटी प्लेस, जंतर मंतर जैसे कई जगहों पर आप राजस्थान परंपरा राजपूती शान को नजदीक से देख सकते हैं।

वाराणसी
वाराणसी
Source- Getty image

वाराणसी

उत्तर प्रदेश में स्थित वाराणसी देश की आध्यात्मिक राजधानी है। 11वीं सदी में बसे इस शहर को लोग कशी, बनारस ,शिव नगरी के नाम से भी जानते हैं। गंगा नदी के किनारे बसे इस शहर में 2000 से अधिक मंदिर हैं , बनारस मंदिरों और घाटों का शहर है। यहां पर स्थित संकट मोचन मंदिर , अस्सी घाट ,दशश्वमेद घाट , मणिकर्णिका घाट, विश्वनाथ मंदिर आदि विश्व प्रसिद्ध स्थल हैं|

मुंबई
मुंबई
Source- weekend thrill

मुंबई

भारत की आर्थिक राजधानी मुंबई को मायानगरी कहा जाता है। मुंबई भारत का सबसे बड़ा शहर है। सन 1924 में ब्रिटिश राज के दौरान मुंबई में गेटवे ऑफ़ इंडिया का निर्माण करा गया था जो आज भी उसी अवस्था में खड़ा है। मुंबई भारतीय सिनेमा उद्योग का केंद्र भी है। मुंबई में एलीफैंटा गिफा ,छत्रपति शिवजी टर्मिनल ,गेटवे ऑफ़ इंडिया जैसे कई जगहें हैं जो पर्यटकों को आकर्षित करती हैं।